Join us on Telegram

Medical Courses list – नमस्कार दोस्तों, इस लेख में हम Medical Courses list  इससे जुड़ी जानकारी देने जा रहे है. अगर आप को और ज्यादा  जानकारी या Admission की जानकारी या कॉलेज के जानकारी तो आप BE Educare एक्सपर्ट्स से ईमेल  करके 5 मिनट का फ्री Call सेशन बुक करें|

यदि आप डॉक्टर बनना चाहते हैं, लोगों की सेवा करना चाहते हैं तथा आप अपना अच्छा भविष्य बनाना चाहते हैं, तो आपके लिए भारत में बहुत से मेडिकल कोर्स उपलब्ध हैं जिससे आप अपना भविष्य बना सकते हैं। यदि आप मेडिकल लाइन में जाना चाहते हैं तो हम आपको 12वीं के बाद मेडिकल कोर्स की सूची (List of Medical Courses after 12th in Hindi) बता रहे है, जिससे आप मेडिकल लाइन में अपना भविष्य बना सकते हैं।

इसके लिए सबसे पहले आपको 12वीं में फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायो से 12वीं अच्छे नंबरों से पास करनी होगी। इसके बाद ही आप मेडिकल लाइन में जा सकते हैं तथा आपको आपके लिए अच्छा कॉलेज मिलता है।

Capture - 2022-12-28T203205.515

 

भारत में 12वीं के बाद मेडिकल कोर्स की सूची ( List of Medical Courses after 12th in Hindi)

12वीं के बाद मेडिकल कोर्स (List of Medical Courses after 12th Hindi me) की सूची नीचे दी गई है। इनके बारे में जानकारी प्राप्त करके आप अपना मनचाहा कोर्स कर सकते हैं।

एमबीबीएस (MBBS)

12वीं के बाद मेडिकल कोर्स की सूची में एमबीबीएस बहुत अच्छा विकल्प है। एमबीबीएस का फुल फॉर्म “बैचलर ऑफ मेडिसिन एंड बैचलर ऑफ सर्जरी” होता है। एमबीबीएस का नाम तो आपने सुना ही होगा। एमबीबीएस सबसे ज्यादा पसंद किए जाने वाला कोर्स है। इसे लोग काफी पसंद करते हैं तथा काफी अधिक संख्या में एमबीबीएस कोर्स लोग कर भी रहे हैं। यदि आप एमबीबीएस करना चाहते हैं और अपना करियर अच्छा बनाना चाहते हैं, तो यह आपके लिए बहुत अच्छा विकल्प है। इसमें 5 साल का कोर्स होता है जिसमें 4 साल की पढ़ाई होती है तथा इसके बाद एक साल की इंटर्नशिप होती हैं।

बीडीएस (BDS)

बी डी एस 12वीं के बाद मेडिकल कोर्स की सूची में दूसरा कोर्स है। बीडीएस का फुल फॉर्म ” बैचलर ऑफ डेंटल सर्जरी” होता है। इसमें डेंटिस्ट बनने के लिए यानी आपको दांतों के डॉक्टर बनने के बारे में सिखाया जाता है। यदि किसी के दांत खराब होता है, तो किस तरह से नए दांत लगाए जाते हैं तथा दांत सड़ने लगे हैं या दांत टूटने वाले हैं तो किस तरीके से नए दांत लगा सकते हैं। इसमें दांतो के बारे में पूरा सिखाया जाता है। यह कोर्स 5 साल का होता है इसमें भी 4 साल की पढ़ाई तथा 1 साल की इंटर्नशिप होती है ।

बीएससी नर्सिंग (B.Sc Nursing)

12वीं के बाद मेडिकल कोर्स की सूची में कम समय में अच्छी जॉब पाने के लिए यह सबसे बेहतर विकल्प है। बीएससी नर्सिंग का फुल फॉर्म “बैचलर ऑफ साइंस इन नर्सिंग” होता है। इसमें आपको एक नर्स बनाया जाता है जिसके लिए आप की 12th, भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान तथा बायो से होना चाहिए तथा इसमें भी 4 साल का कोर्स होता है। BSC नर्सिंग के बाद सरकारी नौकरी के कई विकल्प भी मौजूद हैं।

बी. फार्मा. (B. Pharma)

बी. फार्मा. भी बहुत अच्छा कोर्स है। लोग इसे काफी पसंद करते हैं तथा यह भी 4 साल का कोर्स है।

बी फार्मा के मुख्य कोर्स : –

  • फार्मेसी
  • रसायन विज्ञान
  • जीव विज्ञान
  • स्वास्थ्य विज्ञान

डी. फार्मा. (D. Pharma)

डी. फार्मा. का फुल फॉर्म “डिप्लोमा इन फार्मेसी” होता है। यह कोर्स 2 वर्ष का होता है। फार्मेसी हेल्थ सेक्टर के अंतर्गत ही आता है। इसके अंतर्गत दवाइयों और मेडिकल से संबंधित रिसर्च की जाती है, और दवाइयां के बारे में विस्तार से स्टडी कराई जाती है।

बीएएमएस (BAMS)

12वीं के बाद मेडिकल कोर्स की सूची में बी ए एम एस भी काफी अच्छा विकल्प हैं। बी ए एम एस का फुल फॉर्म “बैचलर ऑफ आयुर्वेदिक मेडिसिन एंड सर्जरी” होता है। इस कोर्स में पूरा 6 साल का समय लगता है। इसमें आपको एक तरह के डॉक्टर कहलाने लगते हैं तथा इसमें 1 साल की इंटर्नशिप भी होती है।

बीयूएमएस (BUMS)

बीयूएमएस का फुल फॉर्म “बैचलर ऑफ यूनानी मेडिसिन एंड सर्जरी” होता है, इसमें यूनानी चिकित्सा पद्धति के तरीके से लोगों को ठीक किया जाता है इसमें भी 6 साल का समय लगता है।

BTP

12वीं के बाद मेडिकल कोर्स की सूची में B T P भी काफी अच्छा विकल्प हैं। B T P का फुल फॉर्म “बैचलर आफ फिजियोथेरेपी” होता है। किसी एक्सीडेंट में सर्जरी कराई जाती है इसी के लिए यह बीपीटी कोर्स किया जाता है, यह कोर्स 5 साल का होता है जैसा कि आपने सुना होगा बहुत से एक्टर्स ने प्लास्टिक सर्जरी कराई है, यह इसी कोर्स के माध्यम से होती है ।

इसके अलावा बहुत से डिप्लोमा कोर्सेज भी होते हैं

आइए जानते हैं डिप्लोमा कोर्स के बारे में –

  • डिप्लोमा इन ओटी टेक्निशियन
  • डिप्लोमा इन एक्स-रे टेक्नोलॉजी
  • डिप्लोमा इन एनेस्थीसिया
  • जीएनएम
  • डिप्लोमा इन रूरल हेल्थ केयर
  • एएनएम
  • डिप्लोमा इन मेडिकल इमेजिंग टेक्नोलॉजी
  • डिप्लोमा इन नर्सिंग केयर असिस्टेंट
  • डिप्लोमा इन फिजियोथैरेपी
  • डिप्लोमा इन मेडिकल लैबोरेट्री टेक्नोलॉजी

भारत में मेडिकल कॉलेज की कुल संख्या 

भारत में कुल मेडिकल कॉलेज 562 हैं जिसमें से कुछ सरकारी कॉलेज है तथा कुछ प्राइवेट कॉलेज है। इन कॉलेजों में डायरेक्ट एडमिशन नहीं मिलता है। इसके लिए आपको कड़ी मेहनत की जरूरत होती है क्योंकि इन कॉलेजों से आप पढ़ाई करने के बाद डॉक्टर बन जाते हैं। इन कॉलेजों में पढ़ाई करने से पहले आपको नीट का एग्जाम क्लियर करना होता है, जिसमें आपको कड़ी मेहनत की जरूरत होती है। नीट का एग्जाम क्लियर करने के बाद ही आप इन कॉलेजों में एडमिशन ले सकते हैं तथा डॉक्टर बन सकते हैं। प्राइवेट कॉलेजों की संख्या 276 है तथा सरकारी कॉलेजों की संख्या 286 है ।

ध्यान देने योग्य बात यह है कि आप मैथ्स से मेडिकल लाइन में नहीं जा सकते हैं। इसके लिए आपको फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायो से ही 11th 12th करनी होगी।

हमें उम्मीद है कि आपको 12वीं के बाद मेडिकल कोर्स की सूची (List of Medical Courses after 12th in Hindi) लेख के बारे में जानकारी पसंद आई होगी, हमें अपने विचार और प्रश्न कमेंट सेक्शन में बताएं।

 

आशा करते हैं कि आपको Medical Courses list अच्छी लगी होगी। अगर आप विदेश में Medical Courses list | करना चाहते हैं तो आज ही BE Educare एक्सपर्ट्स से ईमेल  करके 5 मिनट का फ्री Call सेशन बुक करें|

Related Post :

टॉप 12 मेडिकल कोर्स 2023Click Here

Disclaimers

www.beeducare.com का निर्माण केवल छात्र कोशिक्षा (Educational) क्षेत्र से सम्बन्धित जानकारी उपलब्ध करने के लिए किया गया है, तथा इस पर उपलब्ध पुस्तक/Notes/PDF Material/Books का मालिक beeducare.com@gmail.com नहीं है, न ही बनाया और न ही स्कैन किया है। हम सिर्फ Internet पर पहले से उपलब्ध Link और Material प्रदान करते हैं। यदि किसी भी तरह से यह कानून का उल्लंघन करता है या कोई समस्या है तो कृपया हमें Mail करें beeducare.com@gmail.com पर

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *