नर्स कैसे बने – नमस्कार दोस्तों, इस लेख में हम नर्स कैसे बने इससे जुड़ी जानकारी देने जा रहे है. अगर आप को और ज्यादा  जानकारी या Admission की जानकारी या कॉलेज के जानकारी तो आप BE Educare एक्सपर्ट्स से ईमेल  करके 5 मिनट का फ्री Call सेशन बुक करें|

Join us on Telegram

इस पोस्ट में हम आपको नर्स कैसे बने: इसकी पूरी जानकारी देंगे  अगर आपको किसी भी टॉपिक नोट्स  या कोई भी सीलेबस  या कोई भी न्यूज की जानकारी या  पीडीऍफ़ चाहिये तो आप हमे Comment माध्यम से जरुर बताएं   हमारी बेबसाइट को रेगुलर बिजिट करते रहिये |

नर्स कैसे बने: Nurse Kaise Bane

अगर आप भी नर्स बनने की ख्वाहिश रखते हैं, और नर्स बनकर अपना करियर बनाना चाहते हैं. और साथ ही Nurse Kaise Bane इसके बारे में पूरी जानकारी जानना चाहते हैं, तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं.

नर्स का क्या कार्य होता है 

नर्स की बात करें, तो नर्स का काम एक बहुत ही जिम्मेदार काम होता है. क्योंकि उन्हें अस्पतालों के मरीजों की सेवा तथा देखभाल करनी होती है. वहीं मरोजो के ऑपरेशन के पश्चात नर्स को समय-समय पर पेशेंट को दवा देनी पड़ती है. और साथ ही पेशेंट के परिवार को पेशेंट के बारे में भी सही जानकारी देनी होती है.

नर्स के लिए योग्यता

अगर आप नर्स (Nurse) बनना चाहते हैं, तो आपके पास नर्स बनने के लिए जरूरी योग्यताएं होना बहुत जरूरी है. क्योंकि यदि आपके पास सभी आवश्यक योग्यताएं हैं, तो आप नर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं. तो आइए आगे जानते हैं, उन आवश्यक योग्यताएं के बारे में जो निम्नलिखित है.

  1. नर्स बनने के लिए आपको सर्वप्रथम किसी भी मान्यता प्राप्त हाई स्कूल से 10वीं तथा 12वीं कक्षा अच्छे अंकों के साथ पास करनी होगी.
  2. नर्स कोर्स करने हेतु आपको एंट्रेंस एग्जाम देना अनिवार्य है.
  3. आप नर्स कोर्स में B.Sc Nursing, ANM, GNM तथा MSc Nursing भी कर सकते हैं. इसके अलावा आपकी जानकारी के लिए बता दे कि एएनएम (ANM) कोर्स सिर्फ महिलाएं ही कर सकती हैं.

Capture - 2023-02-20T221114.603

नर्स कैसे बने इसके बारे में 

यदि आप नर्स (Nurse) बनकर अपना करियर बनाना चाहते है, तो आपको सर्वप्रथम उसके लिए किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से 10वीं तथा 12वीं कक्षा अच्छे अंकों के साथ उत्तीर्ण करनी होगी.

क्योंकि अस्पतालों में करियर के तौर पर नर्सिंग तेजी से बढ़ रही हैं. इसलिए अस्पतालों में नर्सों को अधिकतर देखने को मिलता है. क्योंकि हमारे देश में मुख्य रूप से कई नर्स कॉलेज हैं, जहां पर प्राइवेट नर्स कॉलेज तथा सरकारी नर्स कॉलेज उपलब्ध हैं.

जिसमें कुछ ऐसे भी नर्स कॉलेज हैं जहां सीधे प्रवेश मिलता है. लेकिन अधिकतर कॉलेज ऐसे हैं जहां आपको सरकारी नर्स कॉलेज में प्रवेश परीक्षा देने के बाद ही आपकी योग्यता सूची के आधार पर प्रवेश दिया जाता है.

और आप नर्स कोर्स में बीएससी नर्सिंग, एएनएम, जीएनएम और एमएससी नर्सिंग भी कर सकते हैं. क्योंकि नर्सिंग कोर्स पूरा करने के बाद आपको इंटरशिप करनी होती है.

जिसमें आपको नर्सिंग (Nursing) की ट्रेनिंग दी जाती है. और उस ट्रेनिंग को पूरा करने के बाद ही आपको नर्स की डिग्री प्राप्त होती है. और डिग्री मिलने के पश्चात आप किसी भी अस्पताल में नर्स का पद प्राप्त कर सकते हैं. क्योंकि जिस तरह हमारे देश की आबादी बढ़ रही है, उसी तरह बीमारियां भी तेजी से बढ़ रही हैं.

और मरीजों की संख्या बढ़ने के कारण अस्पतालों में और भी कई गुना वृद्धि हो रही है. इसलिए अस्पतालों में वृद्धि के कारण, नर्सिंग (Nursing) में करियर के अवसर भी बढ़ रहे हैं. जहां आप आसानी से नर्स का पद पाकर अपना करियर बना सकते हैं.

नर्स कोर्स की फीस कितनी होती है 

नर्स कोर्स की फीस की बात करें तो अलग-अलग संस्थानों यानी सरकारी और निजी कॉलेजों में नर्सिंग शिक्षा का खर्च अलग-अलग होता है, तो यह आप पर निर्भर करता है की आप किस कॉलेज से नर्सिंग की पढ़ाई करते हैं? निजी संस्थानों में बीएससी नर्सिंग कोर्स की फीस करीब 40,000 से 1,80,000 सालाना फीस हो सकती है. जबकि यहां जीएनएम कोर्स की फीस 45,000 से 1,40,000 के बीच होती है. वहीं, सरकारी कॉलेजों में फीस कम है.

कोर्स की जानकारी 

अगर आप नर्सिंग कोर्स करना चाहते हैं, तो उसके लिए आपके पास नर्सिंग कोर्स की पूरी जानकारी होना बेहद जरूरी है. क्योंकि उसके पश्चात ही आप यह तय कर पाएंगे कि आप नर्सिंग कोर्स में कौन सा कोर्स करना चाहते हैं. तो आइए आगे हम आपको कुछ नर्सिंग कोर्स से परिचित कराते हैं.

  1. बीएससी नर्सिंग (B.Sc Nursing)
  2. जीएनएम (GNM)
  3. एएनएम (ANM)
  4. एमएससी नर्सिंग (MSc Nursing)

बीएससी नर्सिंग 

बीएससी नर्सिंग कोर्स (B.Sc Nursing Course) के लिए आपको किसी भी मान्यता प्राप्त हाई स्कूल से जीव विज्ञान, रसायन विज्ञान, भौतिकी विषय के साथ 12वीं कक्षा पास करनी होगी. साथ ही 12वीं कक्षा में कम से कम 55 से 60 फीसदी अंक होने चाहिए.

क्योंकि बीएससी नर्सिंग कोर्स अंडर ग्रेजुएशन कोर्स है. जो 4 साल का होता है. जिसे आप किसी भी प्राइवेट कॉलेज या सरकारी कॉलेज से बीएससी नर्सिंग कोर्स कर सकते हैं. लेकिन Sarkari College में प्रवेश पाने के लिए आपका प्रवेश परीक्षा (Entrance Exam) पास करना अनिवार्य है. क्योंकि आपके उच्चतम अंकों के आधार पर आपको सरकारी कॉलेज में बीएससी नर्सिंग कोर्स करने हेतु प्रवेश दिया जाता है.

अगर आप बिना एंट्रेंस एग्जाम दिए यह कोर्स करना चाहते हैं, तो किसी भी प्राइवेट कॉलेज से कर सकते हैं. लेकिन अगर आप किसी प्राइवेट कॉलेज से बीएससी नर्सिंग का कोर्स करते हैं, तो इसकी फीस आपको करीब 90 हजार से 1 लाख करीबन लग सकती है. वही अगर आप किसी सरकारी कॉलेज से B.Sc नर्सिंग का कोर्स करते हैं, तो इसकी फीस लगभग 25 हजार से 35 हजार तक हो सकती हैं.

जीएनएम (GNM)

जीएनएम (GNM) यानी General Nursing and Midwifery होता है. जिसे हिंदी में जनरल नर्सिंग और मिडवाइफरी कहा जाता है. जो 3 वर्ष 6 महीने का कोर्स होता है.

जिसके लिए छात्र को साइंस स्ट्रीम में 10+2 फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी विषयों के साथ पास करना होता है. साथ ही छात्र को इसमें कम से कम 50% से 55% अंक प्राप्त करने होंगे.

यदि कोई छात्र सरकारी कॉलेज से जीएनएम कोर्स (GNM Course) करना चाहता है, तो उसे एंट्रेंस एग्जाम देनी होगी. अगर आप इसे किसी प्राइवेट कॉलेज से करना चाहते हैं, तो आप बिना एंट्रेंस एग्जाम दिए ही इस कोर्स को कर सकते है.

GNM कोर्स पूरा करने के बाद आपको 6 महीने की इंटरशिप करनी होती है. जिसके लिए आपको किसी एक अस्पताल में जाकर 6 महीने तक अपने काम की प्रैक्टिस करनी है. ताकि आप प्रैक्टिकल के साथ-साथ अपने कार्य तथा अध्ययन में भी सुशिक्षित हो सकें. यदि आप इस ट्रेनिंग को सफलतापूर्वक पूरा करते है, तो आपको GNM कोर्स का सर्टिफिकेट दिया जाता है.

यदि हम जीएनएम कोर्स की फीस की बात करें तो GNM कोर्स की फीस करीब 25 हजार से 1.50 लाख तक सालाना होती है.

एएनएम (ANM)

ANM यानी Auxiliary Nurse Midwifery होता है. और यह कोर्स केवल लड़कियों के लिए ही होता है. जिसे करने के लिए लड़कियों किसी भी मान्यता प्राप्त स्कूल से 10वीं कक्षा पास करनी होगी.

क्योंकि इसमें छात्रों को संबंधित स्थानों पर तथा उपलब्ध सीटों के लिए प्रवेश परीक्षा के माध्यम से कोर्स में प्रवेश दिया जाता है. यदि सीटों से अधिक छात्रों की संख्या है, तो उनके उच्चतम अंकों के आधार पर प्रवेश दिया जाता है.

क्योंकि इस कोर्स की समय अवधि 2 वर्ष की होती है, यदि आप इस 2 वर्ष के कोर्स को पूरा करते हैं, तो इस कोर्स में छात्रों को कुछ महीने उपचार के दौरान उपयोग किए जाने वाले उपकरणों का रखरखाव तथा उपयोग करने का व्यावहारिक ज्ञान दिया जाता है. यदि आप इस ट्रेनिंग को पूरा कर लेते है, तो आपको ANM कोर्स का सर्टिफिकेट दिया जाता है.

अगर हम इस कोर्स की फीस की बात करें, तो आपके जानकारी के लिए बता दें कि इस कोर्स की फीस सरकारी कॉलेज में काफी कम है. वहीं निजी कॉलेज में इस कोर्स की फीस करीब 60 हजार से 1 लाख के आसपास है.

एमएससी नर्सिंग

यदि हम एमएससी नर्सिंग (MSc Nursing) की बात करें, तो MSc Nursing को “Master of Science in Nursing” कहा जाता है. और इसे हिंदी में “नर्सिंग में मास्टर ऑफ साइंस” कहते है.

एमएससी नर्सिंग ( MSc Nursing ) यह 2 साल का पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स है, जिसके लिए कैंडिडेट को 4 साल का बीएससी नर्सिंग कोर्स यानी (अंडर ग्रेजुएशन कोर्स) पूरा करना होता है. और साथ ही कैंडिडेट को B.Sc नर्सिंग कोर्स में कम से कम 55% से 60% अंक प्राप्त करने होंगे.

क्योंकि एमएससी नर्सिंग कोर्स एक Post Graduation Course है, जो ग्रेजुएशन कोर्स के तहत यानी बीएससी नर्सिंग कोर्स के बाद ही किया जा सकता है.

यदि आप बीएससी नर्सिंग कोर्स के बाद एमएससी नर्सिंग कोर्स (MSc Nursing Course) में एडमिशन लेना चाहते हैं, तो ऐसे कई कॉलेज हैं, जो इसके लिए एंट्रेंस एग्जाम आयोजित करते हैं. इसके अतिरिक्त भी कई कॉलेज ऐसे हैं, जो बीएससी नर्सिंग कोर्स के छात्रों को बिना एंट्रेंस एग्जाम दिए सीधे एडमिशन देते हैं.

इसके अलावा यदि हम एमएससी नर्सिंग कोर्स (MSc Nursing Course) की फीस की बात करें, तो एमएससी नर्सिंग कोर्स की फीस करीब 30,000 से 2 लाख के आसपास होती है.

नर्स बनने के लिए कोर्सेज 

Diploma Course for Nurse

  1. Diploma in Nursing
  2. डिप्लोमा in GNM
  3. Diploma in ANM

Bachelors Degree Courses for Nurse

  1. BSc Nursing
  2. Bachelor’s in Nursing and Midwifery
  3. बैचलर of Nursing/Bachelor of Psychological Science
  4. Bachelor’s in Medical Rehabilitation and Nursing Care

Master’s Courses for Nurses

  1. MSc in Nursing
  2. MSc in Public Health Nursing
  3. मास्टर of Advanced Clinical Nursing
  4. Masters in Mental Health Nursing
  5. Master of Nursing (Research)
  6. मास्टर of Nursing (Perioperative Nursing)
  7. Masters in Nursing in Critical and Emergency Care
  8. Master’s in Medical Rehabilitation and Healthcare Management

नर्स के कार्य 

  • मरीजों की देखभाल तथा सुरक्षा करना नर्स का कर्तव्य होता है.
  • उसी प्रकार मरीजों के ऑपरेशन के पश्चात मरीजों का खास ख्याल रखना तथा समय -समय मेडिसन देना भी होता है.
  • सबके साथ समान व्यवहार करना
  • मरीजों की जानकारी मरीजों के परिवार को सही-सही समय-समय पर बताना
  • अगर किसी मरीज की तबीयत ज्यादा गंभीर हो जाती है, तो नर्स को तुरंत डॉक्टर को इसकी सूचना देनी भी होती है.
  • पेशेंट के कमरे की साफ-सफाई रखना नर्स का काम होता है.

नर्सिंग कोर्स करने के लिए बेस्ट कॉलेज 

  • अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान दिल्ली
  • श्री राममूर्ति मेडिकल कॉलेज, बरेली
  • आयुष एंड हेल्थ साइंस यूनिवर्सिटी, रायपुर
  • भारती विद्यापीठ डीम्ड यूनिवर्सिटी
  • पश्चिम बंगाल स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय
  • नेशनल इँस्टीट्यूट ऑफ मेंटल हेल्थ एंड न्यूरोसाइंसेज, बेंगलुरू
  • सीएमसी (क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज), वेल्लोर
  • पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च चंडीगढ़

नर्सिंग कोर्स के बाद जॉब करियर 

अगर आप नर्सिंग का कोर्स पूरा कर लेते हैं, तो आपके लिए नौकरी के कई विकल्प उपलब्ध होते हैं. तो आइए जानते हैं, नर्सिंग कोर्स करने के बाद किस क्षेत्र में आप अपना करियर बना सकते हैं.

  • सरकारी अस्पताल
  • निजी अस्पताल
  • हेल्थ डिपार्टमेंट
  • अनाथालयों
  • नर्सिंग प्रोफेशनल को गायनी हेल्थ नर्स
  • क्लिनिक
  • कम्युनिटी हेल्थ वर्कर
  • नेशनल रूरल हेल्थ मिशन
  • स्कूल हेल्थ नर्सेज
  • नर्सिंग होम

नर्स की सैलरी 

अगर हम नर्स की सैलरी (Nurse Salary) की बात करें, तो नर्स की सैलरी उनके अनुभव तथा टैलेंट पर निर्भय करती है. फिर भी नर्स की शुरुआती सैलरी 10 हजार से 15 हजार प्रतिमाह तक होता है. और जैसे-जैसे अधिक समय के साथ उनका अनुभव तथा टैलेंट बढ़ता है. वैसे-वैसे उनकी सैलरी में वृद्धि होते रहती है.

Nurse FAQs

Question –  नर्स कितने प्रकार की होती हैं?
Answer – नर्स के प्रकार की यदि हम बात करे, तो क्षेत्र के अनुसार नर्स कई प्रकार के होते है, जैसे –
रजिस्टर्ड नर्स
ट्रेवल नर्स
होम हेल्थ नर्स
नर्स प्रैक्टिशनर
लाइसेंस्ड प्रैक्टिकल नर्स
क्लीनिकल नर्स स्पेशलिस्ट
ऑपरेटिंग रूम नर्स (OR)
इंटेंसिव केयर यूनिट (ICU) रजिस्टर्ड नर्स आदि.

Question – नर्स बन्ने के लिए योग्यता क्या है?
Answer – नर्स बनने के लिए आपको सर्वप्रथम किसी भी मान्यता प्राप्त हाई स्कूल से 10वीं तथा 12वीं कक्षा पास करनी होगी. आप नर्स कोर्स में B.Sc Nursing, ANM, GNM तथा MSc Nursing भी कर सकते हैं. लेकिन इसके लिए आपके पास 12वीं कक्षा में कम से कम 60% अंक होने चाहिए। इसमें एएनएम (ANM) कोर्स केवल महिलाएं ही कर सकती हैं.

Question –   नर्स के लिए कौन सी एंट्रेंस एग्जाम देनी होती है?
Answer – NEET Entrance Exam नर्स बनने के लिए देनी होती है.

Question – नर्स कोर्स फीस कितनी होती है?
Answer – सरकारी और निजी कॉलेजों में नर्सिंग पढाई की फीस अलग-अलग होती है. निजी संस्थानों में बीएससी नर्सिंग कोर्स की फीस करीब 40,000 से 1,80,000 सालाना फीस हो सकती है. जबकि जीएनएम कोर्स की फीस 45,000 से 1,40,000 के बीच होती है. वहीं, सरकारी कॉलेजों में फीस कम है.

Question    –  नर्स की सैलरी कितनी होती है?
Answer – नर्स की सैलरी उनके अनुभव तथा टैलेंट पर निर्भय करती है. फिर भी नर्स की शुरुआती सैलरी 10 हजार से 15 हजार प्रतिमाह तक होता है.

D.Pharma Vs. B.PharmaClick Here

Be Education.com का निर्माण केवल छात्र को शिक्षा (Educational) क्षेत्र से सम्बन्धित जानकारी उपलब्ध करने के लिए किया गया है, तथा इस पर उपलब्ध पुस्तक/Notes/PDF Material/Books का मालिक Be Education.com नहीं है, न ही बनाया और न ही स्कैन किया है। हम सिर्फ Internet पर पहले से उपलब्ध Link और Material प्रदान करते हैं। यदि किसी भी तरह से यह कानून का उल्लंघन करता है या कोई समस्या है तो कृपया हमें Mail करें Be Education@gmail.com पर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *