Signs of Lump in Uterus :  नमस्कार दोस्तों, कैसे है आप सभी आशा करता हु अच्छे होंगे दोस्तों आज की इस पोस्ट में हम आपको बच्चेदानी में गांठ होने पर महिलाओं को शुरुआत में दिखते हैं ये लक्षण की पूरी जानकारी देंगे अगर आपको किसी भी अन्य टॉपिक नोट्स या कोई भी स्टडी मे समस्या हो रही हो या Admission संबंधित जानकारी या कोई अन्य जानकारी चाहिये तो आप हमे Comment के माध्यम से जरुर बताएं या BE Educare एक्सपर्ट्स से  9569174559 पर Whats App करके 10 मिनट का फ्री सेशन बुक करें| अपनी तैयारी या Knowledge और बेहतर बनाने के लिए आप हमारी बेबसाइट को रेगुलर बिजिट करते रहिये |

Join us on Telegram

गर्भाशय में गांठ के लक्षण: गर्भाशय यानी बच्चेदानी में होने वाली गांठ को फायब्रॉइड्स कहा जाता है। कई महिलाएं फायब्रॉइड्स की परेशानी हो काफी ज्यादा गंभीर मान लेती हैं, लेकिन आपको बता दें कि फायब्रॉयड से पीड़ित लगभग 10 हजार महिलाओं में से सिर्फ 1 ही मामले में कैंसर का खतरा रहता है। ऐसे में फायब्रॉइड्स यानी बच्चेदानी में गांठ होने पर ज्यादा न घबराएं। बच्चेदानी में गांठ की परेशानी 25 से 40 की उम्र की महिलाओं को हो सकता है। यह परेशानी उन महिलाओं को अधिक होती है, जिसके शरीर में एस्ट्रोजन हार्मोन का स्तर अधिक होने लगता है। इसकी वजह यूट्रस फायब्रॉइड और कैंसर का खतरा रहता है। आइए जानते हैं बच्चेदानी में गांठ होने पर महिलाओं के शरीर में दिखने वाले लक्षण क्या हैं?

बार-बार पेशाब आना

बच्चेदानी में गांठ की परेशानी होने पर महिलाओं को बार-बार पेशाब आने की शिकायत होती है। कई महिलाएं इस तरह के लक्षणों पर ध्यान नहीं देती हैं। वे इस तरह के लक्षणों को काफी ज्यादा सामान्य समझ बैठती हैं, जिसकी वजह से आगे चलकर उन्हें काफी ज्यादा दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इसलिए अगर आपको दिन में कई बार पेशाब जाना पड़ रहा है, तो एक बार अपने बच्चेदानी का अल्ट्रासाउंड जरूर कराएं। ताकि बच्चेदानी में गांठ के बारे में पता चल सके। साथ ही आपको बच्चेदानी में खराबी के बारे में भी पता चल सकता है।

पीरियड्स में ब्लीडिंग की परेशानी

बच्चेदानी में गांठ की परेशानी होने पर महिलाओं को पीरियड्स के दौरान ब्लीडिंग से जुड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। कुछ महिलाओं को गांठ की वजह से माहवारी के समय या फिर बीच में ही काफी ज्यादा ब्लीडिंग होने लगती है, जिसके साथ थक्के निकलने लगते हैं। वे इस तरह के लक्षणों पर भी ज्यादा ध्यान नहीं देती हैं। ऐसी स्थिति काफी ज्यादा गंभीर हो सकती है।

3 से 5 दिनों से अधिक पीरियड्स होना

पीरियड्स की अवधि अधिकतम 5 दिनों की होती है। अगर आपको इससे अधिक समय तक पीरियड्स हो रहा है, तो एक बार यूट्र्स में गांठ के बारे में पता जरूर लगाएं। क्योंकि 5 दिनों से अधिक समय पर पीरियड्स को सामान्य नहीं समझा जाता है। इस तरह के संकेत बच्चेदानी में गांठ की ओर इशारा करते हैं।

बच्चेदानी में गांठ होने पर महिलाओं के शरीर में कई तरह के बदलाव देखे जा सकते हैं, जिसे अधिकतर महिलाएं इग्नोर करती हैं। इन संकेतों पर अगर आप अच्छे से ध्यान देते हैं, तो इससे काफी हद तक आपकी स्थिति में समय रहते सुधार किया जा सकता है।

गर्भाशय में गांठ के लक्षण निम्नलिखित हो सकते हैं:

  • पेट के निचले हिस्से में दर्द या दबाव का अनुभव
  • पेट की बड़ी आकार की गांठ का महसूस होना
  • पेट में सूजन का अनुभव
  • पेट में अचानक वजन कमी का अनुभव
  • पेट के किनारों में खुजली या चिकनाहट का महसूस होना
  • पेट के निचले हिस्से में दर्द के साथ बार-बार मूत्र के इर्द-गिर्द महसूस होना
  • बार-बार या असामान्य मासिक धर्म समस्याएं
  • पेट में अपने आप बदलता या बढ़ता हुआ गांठ का अनुभव
  • यदि आपको इन लक्षणों में से किसी भी एक का अनुभव होता है, तो आपको श्वेत पर्याप्तता के लिए तत्काल डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए।

Important Links

Our Official Link : –Click Here

Join Telegram:-  Click Here

Related Post:

आशा करते हैं कि आप के बच्चेदानी में गांठ होने पर महिलाओं को शुरुआत में दिखते हैं ये लक्षण  की यह पोस्ट Helpful साबित होगी | अगर आप विदेश में MBBS or BDS या अन्य कोर्स  करना चाहते हैं तो आज ही BE Educare एक्सपर्ट्स से 9569174559 पर Whats App करके 10 मिनट का फ्री सेशन बुक करें|

Disclaimers

www.beeducare.com का निर्माण केवल छात्र को चिकित्सीय शिक्षा (Medical Education), स्वास्थ (Health) क्षेत्र से सम्बन्धित जानकारी उपलब्ध करने के लिए किया गया है, यदि किसी भी तरह से यह कानून का उल्लंघन करता है या कोई अन्य समस्या है तो कृपया हमें Mail करें beeducare232@gmail.com पर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *